euttaranchal euttaranchal

591 posts   40,148 followers   40 followings

Uttarakhand (eUttaranchal)  Explore #uttarakhand with #euttaranchal - mountains, rivers, meadows, treks, hill stations, #pahadi culture & of course the great #himalayas Website

Way to Chamba ❤

"नंदा कुंमौं - गढ़वाल की जै !" तै उंचा कैलाश बाबा,🏔
कन क्वे मैं जौंलू ? तै बर्फीला डांडा बाबा, कन क्वे मैं रौंलू ?🏔
हे पिता हेमंत् मेरा,
सुण हे माँ मैणावति ! मेरा मैता की हे हिलांस, सुणी जा तू हे घुघूती !🐦
बारा मैंना - बारा साल !
बारा बानी - त्यौहार आला कातिग बग्वाल आली, बसंत फुलार आला,🌾
मीं रौंलूं तै ऊँचा कैलाश,
भंगफुका जोगी का पास जिकुड़ी झर-झर झुराली मन होलू भारी उदास!
रिसासों की याद आली
मैत की मैं खड़ी खुद ! मनोलू बुथ्योलू कुई कु मिं तैं बंधोलू धीर !
.
.
📷 & caption by @bhaskar_bhauryal
#Watercolourmix
#Nandadevi
#uttarakhand

Join us on the trail which pandavas followed in search of heaven.

DM your email address if interested.

Start Date: 27th September
End Date: 2nd October

Tour Itinerary (Ex-Badrinath)

Satopanth Tal Trek Itinerary 5N6D

Day 01: Badrinath - Jhamtoli (3640m) (08kms)
After breakfast, drive to Badrinath temple and thereon to Mana Village & trek towards Jhamtoli with packed
lunch. Overnight stay at camp.

Day 02: Jhamtoli - Chakratirtha (4240m) (08kms)

Day 03: Chakratirtha - Satopanth lake (4465m) (5-6km)

Day 04: Satopanth lake - Swargarohini - Satopanth Lake
Day 05: Satopanth Lake - Laxmi Van (3650m)

Day 06: Laxmi Van - Badrinath

Inclusions
 Accommodation in Alpine Tent
 All Meals, Snacks and Packed Lunch during treks
 Forest Camping Charges
 Guide, Porter, Cook Fee
 All camping equipments
 All Taxes

Bag Offloading Charges: Rs. 300 per person during treks.

Trek Fee: Rs. 14000/-pp

#satopanth #yatra #uttarakhand #badrinath #mythology #pandavas #holy #pilgrimage #spiritual #goodvibes #trekking #neverstopexploring #mountains #himalayas #adventure #backpacking #landscape #dreamcatcher #lake #heaven #agameoftones #moodygrams

Trending pahadi song with this kinda route is surely a bliss!

Such roads, such waterfalls and such songs can only be felt here in our young Himalayas!

On the way to Nandprayag from my village Luntra!
.
.
Video & caption by @prakshep.bisht .
.
#travel #tourism #himalayas #himalayan #mountains #hills #nature #uttarakhand #incredibleindiaofficial #pahadi #india #asia #landscape #village #kumaon #garhwal #trekking #destination #culture #tourist #trip #vacation #traveling #indianculture #hiking

Traditional attire of Rang & Shauka communities of Uttarakhand.
.
.
📷 by @abhaykrakowiak .
.
#uttarakhand #culture #bhotiya #traditional #kumaon #garhwal #dress

ऊँचे पहाड के मन में,
आम जन जीवन में ..
घाव बहुत गहरे हैं ..
रिसते रहते हैं ये चीड लीसे की तरह..
निचोडे जाते हैं बुरांस के रस की तरह ,
बिकते हैं बाजारों में बोत्तलबंद स्वागत पेय के जैसे ..
सब कुछ कर गया पलायन ..
बस ये मुश्किल हालात हैं जो पहाडों में ही ठहरे हैं ..
घाव बहुत गहरे हैं .. शोधकर्ता शोध करके चले गए ..
पहाडों के दर्द लिखे..
मेरे पहाड कई बार छले गए..
शदियों पुरानी परेशानियां ..
किताबों में बंद छटपताते मुद्दे ..
पहाड की अनोखी विरासत ,
संस्कृती और पहाडियों की नादानियां ..
दर्द चोटियों से टकराये ,
आह बनकर लौट आये ..
नदियां तो आगे बढ़ी ,
वन सिमटकर रह गए ..
मूक रेबार पहाड के बधिर राजाओं मे खो गए ..
विरासत के सेरों में ,
उन गाड गदेरों में सपने कुछ बिखरें हैं ..
घाव बहुत गहरे हैं .. साभार: @dobhal_kanchi11

#uttarakhand #migration #poem #himalayas

The first lady Chholiyar. Chholiya is a traditional dance form of kumaon region of Uttarakhand mainly performed during auspicious events.
.
.
📷 by @amitsah_ submitted in traditional photo contest.
Location: Liti village, Bageshwar
.
.
#uttarakhand #culture #festival #dance #kumaon #bageshwar #nainital #almora #pithoragarh #champawat #heritage #tradition. #nanda

Only mountains, nature & my coffee can calm me down ☕😁 ~ Anagha Malekar

Wanna buy? Click on the link in our bio or search 'shant pahadan mug' on google.
.
.
.
#mugs #pahadan #pahadi #products #euttaranchal #uttarakhand #garhwal #kumaon #garhwali #kumaoni #auli

ऐसा लगता है मुद्दत हुई ख़ुद से मुलाकात हुए,
ऊंचे पहाड़, और चीड देवदार से बात हुए।
एक अरसा बीत गया,
मेरे पहाड़ तेरी मिट्टी को छुए हुए।

मुझे याद है, गांव से ये कह कर निकला था,
कि क्या रक्खा है मां तेरे इस पहाड़ में,
उबड़ खाबड़ रास्तों में,
इस पत्थर के पुराने मकान में। मैं बस शहर की तरफ ऐसे खिचां आया,
जैसे चुमंबक की तरफ लोहा खिंचा जाए।
सपनों में जीना था, या झूठे सपनों को जीना था,
आज भी समझ नहीं पाया।
शायद उड़ना जो था आधुनिकता की उड़ान में। सुना था शहर सबको अपना लेते हैं,
मगर ये नहीं सुना था कि शहर सपना भी चुरा लेते है।
एक नई पहचान बनाने निकला था,
मगर देखा यहां भीड़ बहुत है, इंसान ही गुम हैं। मेरे पहाड़ मैं तुझसे मीलों दूर तो निकल आया,
मगर एक दिन भी भूल नहीं पाया।
तेरे हरे भरे जंगल और घास के मैदान,
सांय सांय कर तुझमें से बहती वो हवा,
नहीं भूल पाया मैं,
ऊंचे पेड़ों पर लाल मोती से लगे वो रसीले काफल,
सुर्ख लाल किलमोडी का रंग,
और वो नारंगी पीले हिसालू का स्वाद।

अखरोट के छिलकों का वो रंग भी बहुत अच्छी तरह याद है,
जो हाथों पर चढ़ जाता था और तब बहुत चिढ़ होती थी मुझे।
आज कई बार हथेली देखता हूँ।
हर बार बरसात के बाद,
तेरे मिट्टी की सौंधी खुशबू ,
अब ख्यालों में महसूस करता हूं। कुछ नहीं भूला पाया,
बुरांस, फ्योंली का खिलना।
बर्फ की सफेद चादर लपेटे,
तेरा चांदी सा चमकना।
कहीं दूर किसी ग्वाले का गाय बकरियों को आवाज देना,
और कभी अपनी ही धुन में उसका वो मुरली बजाना।
हर चार कदम पर गधेरे और धारों का मिलना। पहाड़ की तलहटी पर,
पत्थरों से बना मेरा छोटा सा घर,
घर के चुल्हे का वो स्वाद,
झूंगर, मंडवा, गहत, बड़ी, भात।
सब कुछ था वरदान सा पाया,
शहर की भूलभुलैया में कितना कुछ गंवाया। कहा था, मां ने मुझसे,
कि हम पहाड़ी हैं,
हम पहाड़ को भले ही छोड़ दें,
मगर ये पहाड़ हमें कभी नहीं छोड़ सकते। सच कहा था,
ऐ मेरे पहाड़,
तूने मुझे कभी नहीं छोड़ा।। credit: Durga Rawat

कुमाऊँ में इन दिनों नंदा देवी महोत्सव और मेलों की धूम है। आज नैनीताल में नंदा और सुनंदा देवी के नगर भ्रमण के दौरान ली गई एक तस्वीर।
.. Doli of Nanda & Sunanda in Nainital city during a regional ritual/tradition in Nanda devi festival/fair of kumaon region of Uttarakhand. 📷 by Kuber Singh Dungwal
.
.
#festival #nanda #sunanda #kumaon #nainital #almora #uttarakhand #culture

Most Popular Instagram Hashtags