bornwanderer जरुरत भर का तोह खुद सबको देता है,
परेशान है लोग इस वास्ते की,बेपनाह मिले
3h

» LOG IN to write comment.

bornwanderer रफ़्तार कुछ इस कदर तेज है जिंदगी की,
की सुबह का दर्द शाम को पुराना हो जाता है।
3d

» LOG IN to write comment.

bornwanderer गुज़र गया दिन अपनी तमाम रौनके लेकर,,,
ज़िन्दगी ने वफ़ा कि तो कल फिर
सिलसिले होंगे
3w

» LOG IN to write comment.

bornwanderer तेरी तलाश में निकलू भी तो क्या फायदा...
तु बदल गया है...
खो गया होता तो और बात होती..
1mon

» LOG IN to write comment.

» LOG IN to write comment.

» LOG IN to write comment.

» LOG IN to write comment.

bornwanderer u keep ur revenge, i shall keep my peace ! 3mon

» LOG IN to write comment.

» LOG IN to write comment.

» LOG IN to write comment.

» LOG IN to write comment.